Intel Core i3 vs i5 vs i7: आपको कौन सा CPU खरीदना चाहिए।

Intel i3 vs i5 vs i7

जैसा की हम सब जानते है की प्रोसेसर computer का brain होता है। लेकिन जब हम processor के selection की बात करते है। तो इसमें काफी मेहनत और दिमाग लगता है। Intel ने अपने processor की series को इस तरीके से बनाया है की किसी आम इंसान को इसे समझने में थोड़ा वक़्त लग जाता है। और यही कारण है जब हम अपने लिए processor चुनने जाते है तो काफी confusion होती है कि हमें core i3, i5 and i7 में से कौन सा processor खरीदना है।

आज हम आपको इस article की मदद से ये समझाने की कोशिश करेंगे की Intel Core i3 vs i5 vs i7 में से कौन सा processor आपके लिए बेहतर है और किसे आपको choose करना चहिए।

Intel i3, i5 और i7 processors में क्या अंतर है।

अपने लिए processor चुनने से पहले हमें यह पता होना चाहिए की core i3, i5 and i7 में क्या अंतर है। यहाँ हम आपको बताना चाहेंगे की core i7 बेहतर है core i5 से और core i5 बेहतर है core i3 से। और ये जानना सभी के लिए काफी आसान होता है, पर चीजें तब मुश्किल बन जाती है जब हम इन सबके बारे में और detail में जानना चाहते है।

जैसे की कुछ लोग समझते हैं की i7 का मतलब 7 core processor से है। और इसमें 7 processor आते है। लेकिन ऐसा नहीं है। Intel का i3 processor काफ़ी समय तक dual core आता था लेकिन अभी कुछ समय पहले intel ने i3 को quad core में launch करना शुरू कर दिया है। और i5 और i7 dual core और quad core दोनों option के साथ आते है। यहाँ हम आपको बताना चाहेंगे की quad core processor, dual core processor से बेहतर होता है।

Intel की chipset की कईं generation आती है। सबसे latest generation 10th generation है। जिसे canan lake या ice lake भी कहते है। हर generation के अपने i3, i5 और i7 processor होते है। और इसे आप इनके model no. के पहले digit से पहचान सकते है। जैसे की i3-9100F 9th generation से belong करता है। बाकि के तीन digit की बात करें तो ये अपनी series में मौजूद दूसरे processors से comparison बतातें है। जैसे i3-9350K, i3-9100F से बेहतर है। क्योंकि 350 एक higher rating है 100 से।

Intel के model में मौजूद H, F और K का क्या मतलब होता है।

ऊपर दिखाए गए model number में आप देख सकते है की एक digit H, T, Q और present है। ये digits भी processor की performance को दर्शाते है। इन digit का क्या मतलब होता है आइये जानते है।

  • H – High Performance Graphics ( यह series बेहतर graphic performance के लिए use किया जाता है। )
  • U – Ultra Low Performance ( यह series कम power लेती है generally laptop में use की जाती है। )
  • T – Power Optimized ( यह series desktop processor में use की जाती है। )
  • Y – Low Power ( यह series पुराने generation के loptop में आती है। )
  • Q – Quad Core ( यह series quad core processor को बताती है। )
  • K – Unlocked ( इस processor की performance को आप इसकी rating से ज्यादा use सकते है। )
  • G – Discrete Graphics ( यह सीरीज generally laptop में use की जाती है। इस सीरीज में प्रोसेसर के साथ एक dedicated GPU ( Graphics processor unit ) मौजूद होता है।
  • F – No Integrated Graphics ( इस सीरीज में कोई graphics मौजूद नहीं होता है। )
  • X – Extra Performance and Mega Tasking , Unlocked

इन सब letters की जानकारी आपको help कर सकती है की आपको अपनी जरुरत के हिसाब से कौन सा processor चहिये।

Hyper – Threading

Processor को चुनते वक़्त आपको इस technical term के बारे में भी पता होना चाहिए। जैसा की हम जानते है की Intel की dual core और quad core term processor की speed को दर्शाती है। पर क्या आप जानते है की आप इन processor को virtual processor में बदल कर इसकी speed को दुगना कर सकते है। इसी method को hyper threading कहते है जो generally thread के नाम से जाना जाता है।

अगर हम simple भाषा में बात करें तो hyper threading में आपका एक core दो virtual core की तरह काम करता है। जिससे आपको बेहतर performance मिलती है और आपको multitasking करने में मदद मिलती है। Hyper threading में हर एक core दो चीज़ें एक साथ कर सकता है। जो CPU की efficiency और performance बढ़ाता है। जैसे की 2 core processor hyper treading की मदद से 4 virtual core की तरह काम करता है। और 4 core physical processor, 8 core virtual प्रोसेसर की तरह काम करता है।

Turbo Boost

Intel की turbo boost technology 2.0, processors की performance को peak load पर और तेज़ कर देती है, अगर आपका processor power, current और temperature की तय सीमा से निचे काम कर रहा है तो। Turbo boost technology में processor की clock frequency, application की demand पर बढ़ जाती है। यह technology, जब आप कोई game या high end software को use कर रहे होते है तब काम आती है। यह technology पहले i3 processor से ऊपर वाली सीरीज में ही आती थी। लेकिन कुछ समय पहले intel ने i3 processor में भी turbo boost को launch कर दिया है।

Cache Size

Hyper threading और turbo boost के अलावा core processor की तीसरी सबसे जरुरी information है Cache size। Cache किसी भी प्रोसेसर की अपनी memory होती है जो की प्राइवेट RAM की तरह काम करती है। किसी भी प्रोसेसर की जितनी ज्यादा cache memory होगी उतनी ज्यादा उसकी performance होगी।

जब processor कोई काम बार बार करता है तो वह उस काम को अपनी memory में स्टोर कर लेता है। जिससे अगर processor को वह काम दोबारा करना होता है तो वह उसे जल्दी और बेहतर तरीके से कर पाता है। प्रोसेसर की जितनी बड़ी cache memory होती है वह उतनी ज्यादा task को स्टोर कर सकता है।

Core i3 की cache memory 3-4 mb तक होती है। Core i5 की 6 mb और i7 की cache memory 8 mb तक होती है।

Intel Graphics

Graphics के field में काफी समय तक Intel के rivals Nvidia और AMD का दबदबा रह है। लेकिन intel के HD, Iris और Iris pro ने intel की graphics के field में पहुंच बढ़ा दी है। आइये इन सीरीज के बारे में भी जानते है।

  • HD Chip-set – यह Intel की एक basic graphic chip set है।
  • Iris Chip-set – यह Intel HD से बेहतर है पर यह भी एक basic performance provide कराती है।
  • Iris Pro – यह Intel की high end graphic chip set है। जो user को एक बेहतर performance देती है।

Comparison of Intel Core i3 vs i5 vs i7

अभी तक article में बताई गई जानकारी आपको प्रोसेसर को चुनने के लिए काफी है। लेकिन आपकी आसानी के लिए हम इसे और स्पष्ट करने की कोशिश करते है।

  • Intel i3 – इस processor का use आप basic performance के लिए कर सकते है। Core i3 Internet browsing, Microsoft office और Social networking को use करने के लिए बेहतर है। इसमें आप gaming और professional task को नहीं कर सकते है।
  • Intel i5 – इस processor का use आप intermediate performance के लिए कर सकते है। यह gaming के लिए भी बेहतर है अगर आप इस chip-set को G processor और Q processor के साथ खरीदते है।
  • Intel i7 – इंटेल का यह प्रोसेसर आप high end performance के लिए use कर सकते है। अगर आप कोई multitask काम कर रहे है या किसी software में आपको ज्यादा power की जरुरत पड़ रही है तो यह प्रोसेसर आपके लिए suitable है।

क्या Intel core i9 आपके लिए जरुरी है?

Intel की इन series के इलावा एक और series आती है। जिसे core i9 कहते है। यह प्रोसेसर high end performance के लिए use होता है। अगर हम बात करें तो इस chip-set में 10 से 18 core processor मौजूद होते है। जिनका use high graphics gaming या super heavy software जैसे video editing और designing में किया जाता है।

Generally i9 प्रोसेसर की जरुरत normal और mid range user को नहीं पड़ती है। अगर हम बात करें तो core i7 में आपके लिए वो सब चीजें मौजूद है जो एक high end desktop में होनी चहिये।

Conclusion

हम आशा करते है की इस article के माध्यम से हम आपको Intel के सभी प्रोसेसर के बारे में जानकारी दे पाए हों और उम्मीद करते है की Intel के i3 ,i5 और i7 processor में क्या अंतर है आपको समझ आ गया होगा।

दोस्तों इस article में हम आपको Intel Core i3 vs i5 vs i7 में क्या comparison है बताना चाहते थे और आपको कौन सा CPU ख़रीदना चाहिए ,इस बारे में मदद करना चाहते थे। हमारी आपसे गुज़ारिश है की आप इस जानकारी को अपने friends, relatives और आस पड़ोस में शेयर करें ताकि यह जानकारी उन तक भी पहुंचे और इससे सबका लाभ हो।

हमें आपके सहयोग की जरुरत है ताकि हम आपके लिए और भी useful जानकारी ले कर आ सकें।

अगर आपको ये article पसंद आया हो तो कृपया comment कर के जरूर बतायें । हमें आपके सुझावों का इंतज़ार रहेगा।

नमस्कार दोस्तों , मैं कुमार गौरव , techhind में writer हूँ। शिक्षा की बात करूँ तो मैं एक इंजीनियर हूँ। Techhind के माध्यम से मैं आपको technology से related नईं और सही जानकारी प्रदान करने की कोशिश करता हूँ। मेरा आप से अनुरोध है की आप हमें सहयोग देते रहें और हम आपको नईं और helpful जानकारी उपलब्ध कराते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here