10 कारण क्यों Google आपकी site को rank नहीं करता है और इसे कैसे ठीक करें।

10 कारण क्यों Google आपकी site को rank नहीं करता है और इसे कैसे ठीक करें।

ब्लॉग्गिंग करते समय आपके सामने कभी ना कभी यह situation जरूर आती होगी की अच्छा SEO करने के बावजूद भी आपकी site या ब्लॉग google में रैंक नहीं कर पाती है।

हम सभी जानते हैं की हमने अपनी site को design करने में बहुत मेहनत की है। और उससे ज्यादा मेहनत उस पर article लिखने और उसका SEO करने में की है। लेकिन फिर भी हमें अगर desirable result ना मिले तो काफी परेशानी और frustration होती है।

Google दुनियाँ का नंबर 1 search engine है और इसी search engine की मदद से दुनियाँ भर का web traffic आपकी साइट पर आता है। लेकिन अगर आपकी site गूगल में रैंक नहीं कर रही है तो कोई भी आपके बारे में जान नहीं पायेगा और ना ही आपको web traffic मिल पाएगा।

इसीलिए आपका यह जानना बहुत जरुरी है की वो क्या कारण है जिनके कारण मेरी साइट google में रैंक नहीं कर पा रही है। और अगर आप इस बात से frustrate हो चुके हैं तो आप सही जगह पर आये हैं।

#1. Competitors

सबसे पहले हमें इस सच्चाई को समझना होगा की blogging field में कुछ niche और industry ऐसी है जो overcrowded हो चुकी हैं। और इन overcrowded niche में आपके कुछ competitors ऐसे हैं जिनका marketing budget आपकी site से कईं गुना ज्यादा है। और यही कारण है की आपकी site गूगल में रैंक नहीं कर पा रही है।

चलिए इसे एक example की help से समझने की कोशिश करते हैं। मान लीजिये आपका Car sale का बिज़नेस है और आप अपनी Car Sale की website को google में rank कराना चाहते हैं। तो एक बार google में आपके competitors पर नज़र डाल लेते हैं।

Competitors

जैसा की आप देख सकते हैं की लगभग 1 अरब से ज्यादा sites google पर मौजूद हैं जो Car Sale के बिज़नेस में मौजूद हैं। इनमें से कईं site ऐसी हैं जिनका नाम बड़ा ना हो लेकिन वो फिर भी बड़ी बड़ी website जैसे OLX, gaadi.com और Car dekho को पूरा competition देती हैं। अब आप समझिये की इतने बड़े competition में आपकी site का क्या chance है की वो पहले या दूसरे page पर रैंक कर पायेगी, ना के बराबर।

तो कैसे आप इतने competition में अपनी site को rank करा पाओगे और web traffic बढ़ा पाओगे, चलिए जानते हैं।

सबसे पहले आपको अपनी market को target करने के लिए थोड़ा specific होना पड़ेगा। जैसा की अगर आप ‘Car for sale’ keyword use करते हैं तो यह keyword ना use करके आपको अपनी local audience के हिसाब से keyword पर focus करना होगा जैसे ‘Car for sale in Delhi’. क्योंक एक specific location के हिसाब से आपको competition कम मिलेगा और आपकी site के रैंक होने के chances भी बढ़ जाते हैं।

दूसरा अगर आप अपनी search को और specific करते हैं जैसे ‘Car for sale under 2 lakhs in Delhi’ तो आपको और ज्यादा सफलता हासिल हो सकती हैं। यहां आपको यह समझना होगा की बड़ी sites और बड़े competitors के against आपको different strategy के साथ काम करना होगा।

#2. Google ने आपकी website को index नहीं किया है।

आपकी site का google में रैंक ना होने का एक कारण यह भी हो सकता है की आपकी site अभी तक google में register नहीं हो पाई है।

कैसे पता चलेगा की आपकी website google में index है या नहीं ?

इसके लिए आपको google में निचे दिए गए method के साथ search करना होगा।

site:yoursite.com ( बिना ‘www’ और ‘/’ के )

यह type करने के बाद अगर आपकी website गूगल में show कर रही है और top पर दिखाई से रही है। तो आपको परेशान होने की जरुरत नहीं है। इसका मतलब यह है की आपकी site गूगल में index है। और अगर आपकी site top पर show नहीं हो रही है तो google ने आपकी वेबसाइट को अभी तक index नहीं किया है।

Website Indexing

Google में website को index कैसे करें ?

गूगल में site को index करने के लिए आपको अपनी website का sitemap “google search console” में add करना होगा।

Website को index करने से google को यह पता चलता है की आपकी site का कौन सा page rank करना है। और अगर आपकी site पर कोई error है तो भी google आपको यह बताता है। Sitemap add करने के कुछ हफ्ते बाद गूगल आपकी site को index करने लगता है और show करने लगता है।

#3. Website का mobile compatible ना होना।

पिछले कुछ सालों में गूगल ने कईं upgrade launch किये हैं, जिसमें से सबसे important है website का mobile friendly होना। गूगल यह समझ चूका है की आज के time में maximum sites मोबाइल पर ही open की जाती है।

तो अगर आपकी website mobile compatible नहीं है तो यह मुशिकल है की गूगल आपकी website को रैंक करेगा।

कैसे check करें की आपकी site mobile responsive है या नहीं ?

अगर आपको लगता है की आपकी website mobile responsive है और आप इसे check करना चाहते हैं तो आपको google के mobile friendly test tool पर जाकर check करना होगा।

अपनी website को mobile responsive कैसे बनाएँ ?

अगर आपने website किसी designer से बनवाई है तो उससे अपनी साइट को mobile responsive बनाने के लिए कहें।

और अगर आपने खुद अपनी website WordPress पर design की है तो आपको mobile responsive theme के साथ काम करना होगा। आप चाहे तो अपनी पुरानी theme को continue कर सकते हैं लेकिन आपको कुछ plugin install करने पड़ेंगे। जिससे आप अपनी website को mobile responsive बना सके और mobile friendly test पास कर सकें।

और अगर आपके पास यह दोनों option भी नहीं है तो आपको अपनी website को दोबारा design करना पड़ सकता है। क्योंकि गूगल में रैंक करने के लिए और perfect SEO के लिए आपकी site का mobile responsive होना बहुत जरुरी है।

#4. Poor title tag और meta description.

सभी सर्च इंजन title tag और meta description से ही जान पाते हैं की आपकी website किस product के बारे में है और क्या represent करना चाहती है। आपकी site के हर page का अपना tag और meta description होता है। जो उस page की जानकारी के बारे में बताता है और इन्ही title tag और meta description से आपको clicks मिलते हैं।

Title tag & Meta description

अपने title tag को optimize कैसे करें ?

आपकी वेबसाइट को रैंक कराने में title tag काफी important role play करते हैं। क्योंकि title tag ही है जो आपकी audience को सबसे पहले दिखता है।

तो वे क्या factors हैं जो आपकी website के title tag को important बनाते है।

  • हमेशा अपने title tag में अपना main keyword include करें।
  • अपने title tag की length को हमेशा 55 character से कम रखें। ताकि गूगल इसे आसानी से समझ सके।
  • कोशिश करें की आपका title tag एक phrase की तरह हों for example- ” Used car under 2 lakh in Delhi”, ना की Used Cars | Delhi Cars | Cars in 2 Lakh.
Meta description को कैसे optimize करें ?

अगर आपने अपनी site वर्डप्रेससपर design की है तो आप Yoast SEO Plugin की मदद से अपनी website का meta description optimize कर सकते है।

कुछ factors जो आपके meta description को बेहतर बना सकते हैं।

  • अपने visitors को attract करने के लिए meta description को एक question की तरह use करें। For example – 8 कारण क्यों आपकी Website पर Organic traffic नहीं है और इसे कैसे ठीक करें।
  • कोशिश करें की meta description की length 155 characters से कम हो।

#5. Article में मौजूद content का सही optimize ना होना।

जैसा की आप जानते हैं किसी भी site को रैंक कराने में google लगभग 200 factors पर काम करता है। और हम इन सभी factors में से कुछ ही को जानते हैं। जैसे की में आपको step no. 4 में title tag और meta description के बारे में बताया।

अगर आप अपना article इन factors को ध्यान में रख कर लिखते हैं तो काफी chances है की आपकी site को advantage मिल सकता है।

चलिए उनमें से कुछ को जानने की कोशिश करते हैं।

  • Domain Factor
  • Title tag & Meta description
  • Alt image factor
  • Site loading factor
  • Content length
  • H1 tag

यह सभी common factors जो हमें आर्टिकल लिखते समय याद रखने चाहिए।

#6. Quality content का ना होना।

में यह समझता हूँ की अगर आपने अपनी site में quality content के साथ article लिखें है। तो यह आपकी ranking को बढ़ने में जरूर मदद करता है।

अगर किसी visitor को आपकी साइट पर मौजूद content पसंद आता है तो वह return visitor बन कर कभी न कभी आपकी site पर जरुर आएगा। हमें इन्हीं visitor के लिए अपनी site पर quality content लिखना है। Quality content के लिए आपको कुछ जानकारी हासिल करनी होगी और कुछ research करनी होगी।

यहाँ आपको यह ध्यान में रखना होगा की आपके article की minimum length लगभग 500 words की होनी चाहिए। क्योंकि इससे गूगल को भी लगता है की इस साइट पर मौजूद content valuable है।

मैंने कईं बार देखा है की लोग अपनी साइट पर हज़ारों खर्च कर देते हैं। लेकिन उनकी site पर quality content ना होने के कारण उन्हें success नहीं मिल पाती है।

Personally मैं बात करूँ तो अगर किसी site पर ज्यादा content मौजूद है तो उस पर information भी useful होगी। तो कोशिश करें की अपने article को detail और quality content के साथ लिखें।

#7. High quality backlinks का ना होना।

Backlinks basically वो links होते हैं जो आपकी website की तरफ point करते हैं। अगर आपकी site पर quality और good volume में backlinks मौजूद है। तो काफी ज्यादा chance है की आपकी site google में रैंक कर सकती है।

Backlinks हासिल करते वक्त आपको यह ध्यान में रखना होगा की किसी एक relevant site से हासिल किया हुआ backlink 100 low quality links से बेहतर होता है। लेकिन high quality backlinks हासिल करने में आपको थोड़ा वक़्त लगेगा और मेहनत भी लगेगी।

अपनी website में मौजूद backlinks को कैसे check करें ?

Internet पर कुछ free tools मौजूद हैं जिनकी help से आप यह जान सकते हैं की आपकी site पर कितने backlinks हैं और कौन-कौन सी साइट आपकी website से linked है।

Ubbersuggest, Moz और ahrefs कुछ ऐसे tools है जिनकी help से आप अपनी site पर मौजूद backlinks की जानकारी हासिल कर सकते हैं।

बैकलिंक्स कैसे हासिल करें ?

अगर आपने अपनी site पर quality content लिखा हुआ है और आपकी site पर traffic भी अच्छा है तो काफी chances है की लोग आपकी site से जुड़ना चाहेंगे।

बैकलिंक्स हासिल करने के लिए आप अपने से बेहतर domain factor वाली साइट के owner को भी contact कर सकते हैं। आप उनसे guest posting की बात कर सकते हैं।

#8. Social network पर मौजूदगी ना होना।

अगर आपकी social media पर activity ना के बराबर है तो यह आपकी site की ranking पर effect डाल सकता है।

ऐसा देखा गया है की आपकी website की credibility को आपकी social media presence से मापा जाता है। अगर आप social media platforms पर active रहते हैं और अपनी audience के साथ connected रहते हैं तो ज्यादा chance है की audience आप पर आपकी website पर trust करेगी।

Social media पर engagement कैसे बढ़ायें ?

सबसे पहले आपको सभी social media platforms पर अपनी profile बनानी होगी। जैसे – Facebook, Twitter, LinkedIn, Instagram और Pinterest. इन सभी media platforms पर millions में traffic मौजूद रहता है। चाहे वो कोई सी भी country हो।

Social media tips :-

  • हमेशा कोशिश करें लगातार और high quality content सोशल मीडिया पर upload करते रहें।
  • अपनी website पर social media sharing buttons जरूर लगाएं।
  • नए और पुराने सभी articles को सभी social media platforms पर link करें।

#9. Low page loading speed.

Google हमेशा कोशिश करता है की उसके users को सभी sites से अच्छा experience मिले। जिसके लिए वो हमेशा check करता है की आपकी website की loading speed क्या है। अगर यह 5 सेकंड से ज्यादा है तो गूगल आपकी website को penalize भी कर सकता है और रैंकिंग में avoid भी। Slow page loading speed आपके bounce रेट को भी बढ़ाता है जिससे आपकी website की performance पर असर पड़ता है।

Online कईं ऐसे tools मौजूद है जहाँ से आप ये जान सकते हैं की आपकी site की loading speed क्या है। या आप अपनी site की loading speed को Google की page speed insights पर जाकर भी check कर सकते हैं।

तो हमेशा कोशिश करें की आपकी साइट की loading speed fast हो। जिससे आपकी site की ranking में मदद मिल सके।

#10. Google Penalty

यह बहुत rare होता है की google किसी site पर penalty लगाए। लेकिन फिर भी अगर आपकी website पर कुछ ऐसी activity हुई है जो गूगल के rules के खिलाफ है। तो आपकी website पर penalty भी लग सकती है।

2 सबसे common factors है जिनके कारण google आपकी website को penalized कर सकता है।

  • Over optimization :- इसका यह मतलब है की आपने अपनी site को जरुरत से ज्यादा ही optimize किया हुआ है। जैसे आपने main keyword को URL में, title में, title tag में और alt text में use किया हुआ है। तो यह google के boats को कुछ unnatural लग सकता है। जिससे आपकी site penalize भी हो सकती है।
  • Unnatural link creation :- जैसा की हमने पहले बताया की आपकी site को रैंक कराने में backlinks बहुत important role play करते हैं। लेकिन अगर आपने यही backlinks गलत तरीके से हासिल करने की कोशिश की है तो यह आपके लिए मुसीबत बन सकता है। जैसे – आपने backlinks को खरीदने की कोशिश की हो, links exchange किये हों या बहुत ही low quality के links use किये हों।

कैसे पता चलेगा की मेरी website penalize हो चुकी है ?

इसके लिए आपको google search console पर जाना होगा। वहां से main menu में जाकर Manual action पर click करना होगा। अगर आपकी site पर कोई error या issue नहीं है तो यह No issues detected दिखाएगा। और अगर google के bots ने यह analyze किया की आपकी site पर कुछ गलत काम हुआ है तो वह error show करेगी।

Google Penalty

Google penalty से कैसे recover करें ?

अगर google ने किसी कारण से आपकी website को penalize कर दिया है तो घबराएं नहीं। गूगल हमेशा आपको बताएगा की क्या reason है जिसके कारण आपकी site penalize हुई है। अगर आपने उस problem को दूर कर दिया है तो आप google को दोबारा request भेज सकते हैं। और अगर गूगल ने verification में पाया की आपकी site सही है तो वह penalty हटा लेंगे और आपकी site पहले की तरह काम करने लगेगी।

Conclusion

आपने हमारे आर्टिकल में पढ़ा की website की ranking को improve करने में कईं factors मायने रखते हैं। और इन सभी को आप अपने आप भी improve कर सकते हैं आपको किसी professional की जरुरत नहीं है। आप जितना ज्यादा अपनी site को समझेंगे उतना ही आसान होगा आपका उसे रैंक कराने में।

हम उम्मीद करते हैं की आपको हमारा यह article 10 कारण क्यों Google आपकी site को rank नहीं करता है और इसे कैसे ठीक करें पसंद आया होगा। हमारा आपसे अनुरोध है की इस article को आप अपने friends और relatives के साथ भी share करें ताकि उन्हें भी help मिल सके। और अगर आप अपना कोई सुझाव देना चाहते हैं तो हमें comment box में comment करके बताएं।

नमस्कार दोस्तों , मैं कुमार गौरव , techhind में writer हूँ। शिक्षा की बात करूँ तो मैं एक इंजीनियर हूँ। Techhind के माध्यम से मैं आपको technology से related नईं और सही जानकारी प्रदान करने की कोशिश करता हूँ। मेरा आप से अनुरोध है की आप हमें सहयोग देते रहें और हम आपको नईं और helpful जानकारी उपलब्ध कराते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here